Monday , 26 February 2018

Home » समाचार » क्षेत्रीय » श्री श्री 108 महाशिवरात्रि का पर्व बड़े ही हर्षो उल्लास के साथ मनाया

श्री श्री 108 महाशिवरात्रि का पर्व बड़े ही हर्षो उल्लास के साथ मनाया

February 14, 2018 9:29 pm by: Category: क्षेत्रीय, समाचार Leave a comment A+ / A-

समस्तीपुर : जिले के श्री श्री 108 महाशिवरात्रि महोत्सव थानेस्वरस्थान व निमगली घाट और कई स्थान पर बहुत ही धूम धाम से महाशिवरात्रि पर्व मनाया जा रहा है। थानेस्वरस्थान मंदिर में भक्तों की काफी भीड़ होने के कारण मंदिर परिसर में जल ही जल दिखाई दे रहा था। फिर भी (भक्त) श्रद्धालु को कोई परेशानी महसूस नही दिखाई दी। लेकिन पानी बाहर नही निकलने के कारण पुरे परिसर में पानी ही पानी भरा है। वही पुलिस प्रशासन की अच्छी व्यवस्था होने के कारण शान्ति पूर्ण मनाया है।
भगवान शिव की पूजा करने से हर मनोकामना की पूर्ति होती है, वहीं शिवलिंग की पूजा करने से भोलेनाथ जल्द ही प्रसन्न होते हैं। क्या आप जानते हैं शिवलिंग कई प्रकार के होते हैं और अलग-अलग कामना की पूर्ति के लिए अलग-अलग शिवलिंग की पूजा की जाती है।

आइए आपको विस्तार से बताते हैं। शिव लिंग बारे मे:-

अगर किसी व्यक्ति को अकाल मृत्यु का भय सताता है तो उसे दुर्वा को शिवलिंग के आकार में गूंथकर उसकी पूजा करनी चाहिए। जीवन-मरण के चक्र से मुक्ति पाने के लिए व्यक्ति को आंवले से बने शिवलिंग का रुद्राभिषेक करना चाहिए। तंत्र-मंत्र या फिर कैसी भी विशेष सिद्धि प्राप्त करना चाहते हैं तो यज्ञ कि भस्म से शिव लिंग बनाकर उसकी पूजा करें। अगर संतान का सुख चाहते हैं तो जौं, गेहूं और चावल को समान मात्रा में मिलाकर इसका आटा बना लें और इस आटे से शिवलिंग बनाकर उसकी पूजा करें। जल्द ही संतान की प्राप्ति होगी।

किसी को अपने वश में करना है तो मिर्च, पीपल के चूर्ण में नमक मिलाकर इसका शिवलिंग बनाएं और इसकी पूजा करें। जब किसी को अपने शत्रुओं का नाश करना होता है तो वह लहसुनिया से बना शिवलिंग तैयार कर उसकी पूजा करता है। इससे शत्रुओं पर विजय प्राप्त होती है। पीपल की लकडी से भी शिवलिंग बनाया जाता है, अगर कोई व्यक्ति दरिद्र है तो वह पीपल की लकड़ी से शिवलिंग बनाकर उसकी पूजा कर सकता है, इस शिवलिंग की पूजा करने से दरिद्रता दूर होती है। अगर किसी को सुख-समृद्धि की कामना है तो उसे सोने के शिवलिंग की पूजा करनी चाहिए, सोने के शिवलिंग की पूजा करने से अपार धन संपदा की प्राप्ति होती है।

श्री श्री 108 महाशिवरात्रि का पर्व बड़े ही हर्षो उल्लास के साथ मनाया Reviewed by on . समस्तीपुर : जिले के श्री श्री 108 महाशिवरात्रि महोत्सव थानेस्वरस्थान व निमगली घाट और कई स्थान पर बहुत ही धूम धाम से महाशिवरात्रि पर्व मनाया जा रहा है। थानेस्वरस समस्तीपुर : जिले के श्री श्री 108 महाशिवरात्रि महोत्सव थानेस्वरस्थान व निमगली घाट और कई स्थान पर बहुत ही धूम धाम से महाशिवरात्रि पर्व मनाया जा रहा है। थानेस्वरस Rating: 0

Leave a Comment

scroll to top