Monday , 26 February 2018

Home » समाचार » क्षेत्रीय » विरार: विरार में पुलिस के खिलाफ आगरी सेना ने निकाला मूक मार्च

विरार: विरार में पुलिस के खिलाफ आगरी सेना ने निकाला मूक मार्च

February 12, 2018 3:45 pm by: Category: क्षेत्रीय, समाचार Leave a comment A+ / A-

(विरार) जनवरी माह में लापता हुए कुमार नितिन भगत का संदेहास्पद स्तिथि में शव मिलने के 25 दिन बाद भी पुलिस द्वारा कार्यवाई न किये जाने से छुब्ध परिजनों ने आगरी सेना के नेतृत्त्व में मूक मोर्चा निकाल कर विरोध प्रदर्शन किया। उक्त मोर्चा का आरंभ विरार पश्चिम के आगासी पुलिस स्टेशन के पुराने बिल्डिंग से शनिवार की सुबह 10 बजे से आरंभ होकर पैदल मार्च करते हुए सागरी किनारे स्थित सागरी पुलिस स्टेशन पर पहुंचकर समाप्त हुआ। उक्त मूक मोर्चे का नेतृत्व पालघर जिला आगरी सेना अध्यक्ष जनार्दन पाटिल (जना मामा) द्वारा किया गया। इस दौरान आगरी सेना से जुड़े बड़ी संख्या में महिलाए एवं पुरुष हाथों में मृतक नितिन भगत के फ़ोटो के साथ बनाये गए अलग-अलग पोस्टर अपने हाथों में लेकर चल रहे थे। पुलिस स्टेशन पर पहुचे मोर्चे के नेतृत्वकर्ता जना मामा ने उक्त मामले की निष्पक्ष जांच सीबीआई से कराने के साथ ही आरोपियों को तत्काल गिरफ्तार करने की मांग की गयी। जिस पर सागरी पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक कैलाश ए नाईक ने लोगो को आश्वासन देते हुए फोरेंसिक रिपोर्ट आने के साथ ही तत्काल कार्यवाही किये जाने का आश्वासन दिया गया। उन्होंने कहा कि जब तक मामले की जांच रिपोर्ट मुझे उपलब्ध नही होगी, हम सही दिशा में चलने में असमर्थ हैं। इसलिए रिपोर्ट आने तक इंतजार करना ही होगा। इसके साथ ही जना मामा ने उस मामले में मृतक के पास से मिली चोरी की बाइक को लेकर बताया गया कि उस बाइक को जिसके द्वारा मृतक को दिया गया। उसके खिलाफ कार्यवाई की जाये। ताकि सच खुलकर सामने आये।

विरार: विरार में पुलिस के खिलाफ आगरी सेना ने निकाला मूक मार्च Reviewed by on . (विरार) जनवरी माह में लापता हुए कुमार नितिन भगत का संदेहास्पद स्तिथि में शव मिलने के 25 दिन बाद भी पुलिस द्वारा कार्यवाई न किये जाने से छुब्ध परिजनों ने आगरी से (विरार) जनवरी माह में लापता हुए कुमार नितिन भगत का संदेहास्पद स्तिथि में शव मिलने के 25 दिन बाद भी पुलिस द्वारा कार्यवाई न किये जाने से छुब्ध परिजनों ने आगरी से Rating: 0

Leave a Comment

scroll to top