Tuesday , 12 December 2017

Home » कहानी » फतेहपुर: नौ साल की बेटी की माँ बनी “मिसेज इंडिया क्वीन 2017”

फतेहपुर: नौ साल की बेटी की माँ बनी “मिसेज इंडिया क्वीन 2017”

December 3, 2017 4:13 pm by: Category: कहानी, क्षेत्रीय, नई राहें, महिला दर्पण, समाचार Leave a comment A+ / A-

(फतेहपुर)  जिले की रहने वाली गीतांजलि सिंह मिसेज इंडिया क्वीन 2017 बन गयी हैं। आरजे फैशन फिएस्टा और बालाजी मीडिया द्वारा आयोजित इस प्रतियोगिता के चार चरण आयोजित किये गए थे, उसके बाद नयी दिल्ली में हुए फाइनल में गीतांजलि ने देश भर से आई 20 प्रतिभागियों के बीच शीर्ष स्थान हासिल किया।

उत्तर प्रदेश फतेहपुर जिले के सदर क्षेत्र ज्वाला गंज निवासी गीतांजलि जिसने इलाहाबाद से अपनी शिक्षा प्राप्त लड़ने के बाद अपने जीवन में कुछ करने की ललक थी बचपन से ही सांस्कृतिक प्रोग्रामो में हिस्सा लेकर नाम कमाया। यही नहीं इलाहाबाद में भी पढ़ाई के समय सांस्कृतिक प्रोग्रामो में हिस्सा लेकर पुरुस्कारो से सम्मानित हुयी हिम्मत लगन और जोश ने उस मुकाम पर आज पहुंचा दिया। जहां पर हर एक को स्थान नहीं मिलता, हाल में हुयी मिसेज इंडिया क्वीन 2017 के साथ ही स्टाइल आइकॉन दिवा-2017 का खिताब जीत कर जनपद और अपने परिवार का नाम रौशन किया। इसके अलावा गीतांजलि ग्लैडरैग्स मिसेज इंडिया के टॉप 10 में भी चुनी जा चुकी हैं।  बता दें कि पिछले साल मिसेज यूपी 2016 भी रह चुकी हैं। वहीं बेटी की इस कामयाबी पर पिता और परिवार के अन्य लोग खुश हैं।  वही पिता की माने तो बेटी बचपन से ही होनहार थी और कुछ अलग करने की ललक उसके भीतर हमेशा से रही है। शायद इसी का नतीजा रहा कि छोटे से जिले से निकालकर देश में अपना नाम रोशन किया।

गीतांजलि की बड़ी बहन दोनों पैरे से दिव्यांग हैं, और सरकारी टीचर हैं। उनका कहना हैं की मेरी छोटी बहन को हमेशा कुछ करने की धुन सवार रहती थी, और माता-पिता का नाम रोशन करने के साथ ही अपने पैरों पर खड़ा होने की बात करती थी। इसी जुस्तुजू के चलते मेरी बहन फतेहपुर में एक किड्स स्कूल भी चलाती हैं। जिसकी देख-रेख खुद गीतांजली करती हैं। गीतांजलि की एक 9 साल की बेटी भी है। जिसके पालन-पोषण का जिम्मा भी गीतांजली बखूबी निभाती है। पांच भाई-बहनों में तीसरे नंबर की गातांजली की हाईक्वालिफआई होने का बावजूद उन्होंने नौकरी करने के बजाए बच्चों को पढ़ाने का जिम्मा उठाया। जिस काम को आज भी गीतांजलि बखूबी अंजाम देने में लगी हुयी हैं। पिता की माने तो उन्होंने बताया की बचपन से ही उसके अंदर कुछ करने की चाह उसने कर दिखाया। वहीं परिवार के लोगों की माने तो गीतांजली को हर तरह से पूरा सपोर्ट किया गया। और उसी का नतीजा रहा कि फतेहपुर की होनहार बेटी ने पूरे देश में जिले के साथ-साथ अपना नाम भी रोशन किया।

फतेहपुर: नौ साल की बेटी की माँ बनी “मिसेज इंडिया क्वीन 2017” Reviewed by on . (फतेहपुर)  जिले की रहने वाली गीतांजलि सिंह मिसेज इंडिया क्वीन 2017 बन गयी हैं। आरजे फैशन फिएस्टा और बालाजी मीडिया द्वारा आयोजित इस प्रतियोगिता के चार चरण आयोजित (फतेहपुर)  जिले की रहने वाली गीतांजलि सिंह मिसेज इंडिया क्वीन 2017 बन गयी हैं। आरजे फैशन फिएस्टा और बालाजी मीडिया द्वारा आयोजित इस प्रतियोगिता के चार चरण आयोजित Rating: 0

Leave a Comment

scroll to top