Saturday , 21 October 2017

Home » कारोबार » कोई ऋण नहीं-कोई नकदी नहीं’ के तहत, एयरटेल करेगी टाटा टेलीकॉम का अधिग्रहण

कोई ऋण नहीं-कोई नकदी नहीं’ के तहत, एयरटेल करेगी टाटा टेलीकॉम का अधिग्रहण

October 13, 2017 12:08 pm by: Category: कारोबार, राष्ट्रीय, समाचार Leave a comment A+ / A-

भारत दुनिया के सबसे बड़े मोबाइल बाजारों में से एक है। ऐसे में देश की मोबाइल कंपनी भारती एयरटेल द्वारा टाटा समूह के घाटे में चल रहे मोबाइल टेलीफोन कारोबार का अधिग्रहण लगभग मुफ्त में किये जाने की बात सामने आई। इस सौदे से जहां एयरटेल को स्पेक्ट्रम और ग्राहकों का फायदा होगा, वहीं टाटा समूह इस संकटग्रस्त इकाई को बंद करने की जिम्मेदारी से बच जायेगा। बता दें की इस सौदे को देश के दूरसंचार उद्योग में एकीकरण का एक और मजबूत संकेत माना जा रहा है। इस सौदे की जानकारी दोनों कंपनियों ने अलग-अलग लेकिन समान भाषा वाले वक्तव्यों द्वारा मिडिया को दी।

एयरटेल द्वारा अधिग्रहित किये जाने के बाद एक नवंबर से 19 दूरसंचार सर्किलों में टाटा टेलीर्सिवसेज और टाटा टेलीर्सिवसेज महाराष्ट्र के चार करोड़ से अधिक ग्राहकों का अधिग्रहण कंपनी कर लेगी। ‘कोई ऋण नहीं-कोई नकदी नहीं’ के आधार पर किये जा रहा यह अधिग्रहण एयरटेल का बीते पांच सालों में सातवां अधिग्रहण है। अधिग्रहण के बाद टीटीएसएल और टीटीएमएल के 19 सर्कलों के कर्मचारी एयरटेल के पास चले जाने के साथ ही उसे 1800, 2100 व 850 मेगाहर्ट्ज बैंड में 178.5 मेगाहटर्ज अतिरिक्त स्पेक्ट्रम भी मिलेगा।

0

कोई ऋण नहीं-कोई नकदी नहीं’ के तहत, एयरटेल करेगी टाटा टेलीकॉम का अधिग्रहण Reviewed by on . भारत दुनिया के सबसे बड़े मोबाइल बाजारों में से एक है। ऐसे में देश की मोबाइल कंपनी भारती एयरटेल द्वारा टाटा समूह के घाटे में चल रहे मोबाइल टेलीफोन कारोबार का अधिग भारत दुनिया के सबसे बड़े मोबाइल बाजारों में से एक है। ऐसे में देश की मोबाइल कंपनी भारती एयरटेल द्वारा टाटा समूह के घाटे में चल रहे मोबाइल टेलीफोन कारोबार का अधिग Rating: 0

Leave a Comment

scroll to top