Saturday , 16 December 2017

Home » धर्म कर्म »  भगवान श्रीकृष्ण को खुश करें, मनोकामना होगी पूरी

 भगवान श्रीकृष्ण को खुश करें, मनोकामना होगी पूरी

August 15, 2017 10:01 am by: Category: धर्म कर्म, प्रमुख समाचार, राष्ट्रीय, समाचार Leave a comment A+ / A-

भगवान श्रीकृष्ण के जन्मोत्सव को जन्माष्टमी के रूप में मनाया जाता है। 14 अगस्त को अष्टमी तिथि पर आरंभ होगी और 15 अगस्त को तक रहेगी, इसके बाद कृष्ण जन्माष्टमी रोहिणी नक्षत्र रहित होगी। 15 अगस्त शाम 5.39 बजे के बाद रोहिणी नक्षत्र समाप्त होगा, इसलिए 14 अगस्त को ही भक्त उपवास रखें। भाद्रपद अष्टमी पर 15 अगस्त को श्रीकृष्ण जन्माष्टमी मनाई जाएगी। वहीं वैष्णवजन सूर्योदय तिथि अष्टमी वाले दिन यानि 15 अगस्त को कृष्ण जन्मोत्सव मनाएंगे।

इस दिन भगवान श्रीकृष्ण को प्रसन्न करने के लिए विशेष उपाय किए जाएं तो माता लक्ष्मी भी प्रसन्न हो जाती हैं और भक्तों पर कृपा बरसाती हैं।
नीचे दिए गए उपाय करने से मनोकामना पूर्ति व धन प्राप्ति के योग भी बन सकते हैं: जन्माष्टमी पर 7 कन्याओं को घर बुलाकर खीर या सफेद मिठाई खिलाएं। इसके बाद लगातार 5 शुक्रवार तक 7 कन्याओं को खीर बांटें। इससे धन वृद्धि बढ़ती है। रोजगार की बढ़ोतरी के लिए भी अच्छा है।

सुख-समृद्धि पाने के लिए जन्माष्टमी पर पीले चंदन या केसर में गुलाब जल मिलाकर कृष्ण जी के लगाये फिर अपने माथे पर टीका अथवा बिंदी लगाएं। ऐसा रोज करें। इस उपाय से मन को शांति प्राप्त होगी और जीवन में सुख-समृद्धि आने के योग बनेंगे। लक्ष्मी कृपा पाने के लिए जन्माष्टमी पर कहीं केले के दो पौधे लगा दें। बाद में उनकी नियमित देखभाल करते रहें।

-जन्माष्टमी से शुरू कर 27 दिन तक लगातार नारियल व बादाम किसी कृष्ण मंदिर में चढ़ाने से सभी इच्छाएं पूरी हो सकती हैं।

-यदि पैसों की समस्या चल रही हो तो जन्माष्टमी पर सुबह स्नान आदि करने के बाद राधा-कृष्ण मंदिर जाकर दर्शन करें व पीले फूलों की माला अर्पण करें। इससे आपकी परेशानी कम हो सकती है।

-जन्माष्टमी की रात 12 बजे भगवान श्रीकृष्ण का केसर मिश्रित दूध से अभिषेक करें तो जीवन में सुख-समृद्धि आने के योग बनते हैं।

-जन्माष्टमी पर भगवान श्रीकृष्ण को पान का पत्ता भेंट करें और उसके बाद इस पत्ते पर रोली से श्री मंत्र लिखकर तिजोरी में रख लें। इस उपाय से धन वृद्धि के योग बन सकते हैं।

-जन्माष्टमी पर भगवान श्रीकृष्ण को सफेद मिठाई या खीर का भोग लगाएं। इसमें तुलसी के पत्ते अवश्य डालें। इससे भगवान श्रीकृष्ण जल्दी ही प्रसन्न हो जाते हैं।

-जन्माष्टमी पर दक्षिणावर्ती शंख में जल भरकर भगवान श्रीकृष्ण का अभिषेक करें। इस उपाय से मां लक्ष्मी भी प्रसन्न होती हैं। ये उपाय करने वाले की आपकी हर इच्छा पूरी हो सकती है।

-जन्माष्टमी को शाम के समय तुलसी को गाय के घी का दीपक लगाएं और ऊं वासुदेवाय नम: मंत्र बोलते हुए तुलसी की 11 परिक्रमा करें।

 भगवान श्रीकृष्ण को खुश करें, मनोकामना होगी पूरी Reviewed by on . भगवान श्रीकृष्ण के जन्मोत्सव को जन्माष्टमी के रूप में मनाया जाता है। 14 अगस्त को अष्टमी तिथि पर आरंभ होगी और 15 अगस्त को तक रहेगी, इसके बाद कृष्ण जन्माष्टमी रोह भगवान श्रीकृष्ण के जन्मोत्सव को जन्माष्टमी के रूप में मनाया जाता है। 14 अगस्त को अष्टमी तिथि पर आरंभ होगी और 15 अगस्त को तक रहेगी, इसके बाद कृष्ण जन्माष्टमी रोह Rating: 0

Leave a Comment

scroll to top