Tuesday , 12 December 2017

Home » समाचार » क्षेत्रीय » जाट अारक्षण अांदोलनः हरियाणा में सेना भी बेअसर

जाट अारक्षण अांदोलनः हरियाणा में सेना भी बेअसर

February 20, 2016 7:05 pm by: Category: क्षेत्रीय, प्रमुख समाचार, ब्रेकिंग न्यूज़, समाचार Leave a comment A+ / A-

20_02_2016-jat20हिसार  : हरियाणा में हालात बद से बदतर होते जा रहा है। कई जिलों में सेना बुलाई गई है लेकिन उपद्रव जारी है। रोहतक में उपद्रवियों के हंगामे के बीच सेना को पीछे हटना पड़ा। शुक्रवार पूरी रात उपद्रवियों ने रोहतक में जमकर लूटपाट की। प्रशासन व सुरक्षा बल नदारद दिखे। महम में शनिवार सुबह से लूटपाट व हिंसा जारी है। थाना, चौकी व पेट्रोल पंप फूंक दिया गया।

हिसार के हांसी में जातीय टकराव शुरू हो गया। दोनों गुटों में जमकर पथराव हुआ और फायरिंग भी हुई। पूर्व मंत्री अत्तर सिंह सैनी के भाई को गोली लगी है। उनकी हालत गंभीर बताई जा रही है।

सोनीपत अौर जींद में कर्फ्यू

बेकाबू होते जाट अांदोलन के कारण जींद अौर सोनीपत में भी कर्फ्यू लगा दिया गया है। प्रशासन ने बलवाइयों को पंद्रह मिनट की मोहलत दी है। इसके बाद सड़क पर दिखे उत्पातियों को गोली मारने के आदेश दिया गया है।रोहतक में फिर हिंसा भड़क गई है। सेना के फ्लैग मार्च के बाद आंदोलनकारी अौर हिंसक हो गए । सेना को प्रशासन ने वापस बुला लिया है। किला मोहल्ला में कई दुकानों में आग लगा दी गई है। शहर में तोड़फोड़ की घटना तेज हो गई है। कैथल के पूंडरी में प्रदर्शनकारियों ने आठ बसों को आग के हवाले कर दी। कलायत में जाट और नान जाट अापस में भिड़ गए। करीब 15 वाहनों को आग के हवाले कर दिया गया है। इस संघर्ष में 15 से अधिक लोग घायल हैं। जाखौली और नीमवाला के बीच बाइक चालक को भाला मारकर घायल कर दिया गया है।

झज्जर में उपद्रवी बेकाबू, शहर बंधक
झज्जर रोडवेज डिपो में उपद्रवियों ने बसों में तोड़फोड़ अौर हंगामा किया। जींद के सैनी धर्मशाला में आग लगा दी। पानीपत में हथियारबंद आंदोलनकारी सड़कों पर उतर गए हैं। सभी बाजार बंद कराया गया है।जींद के जुलाना पुलिस थाने में भी आग लगा दी गई है। अलग-अलग जत्थों में बंटे आंदोलनकारी शहर में उत्पात मचा रहे हैं। केंद्रीय मंत्री बीरेंद्र सिंह की कोठी के आसपास प्रदर्शनकारी देखे गए ।

कैथल के पुंडरी में आठ बसों को फूंका।

प्रदर्शनकारियों ने कैथल के पुंडरी में आठ बसों को फूंक दिया है। गोहाना बस स्टैंड में खड़ी दो बसें भी जला दी गई है। जीटी रोड पर कुंडली, मुरथल व कुमासपुर मोड़ पर जाटों ने जाम लगा दिया है। पानीपत में सिवाह के पास ट्रक में आग लगा दी गई है। पानीपत रोहतक मार्ग पर डाहर टोल प्लाजा पर तोड़फोड़ की गई है। जाटल रोड, बिंझौल, नौल्था, इसराना, शाहपुर, मतलौडा, भालसी समेत कई जगहों पर जाट लगाए जाने से शहर का गांवों से संपर्क टूट गया है।

सेना की गाड़ी रोकी

हिसार से रोहतक जा रही सेना की 11 गाड़ियों को प्रदर्शनकारियों ने रोक दी। आंदोलनकारियों ने बीती रात मदीना में सड़क खोदकर सेना का रास्ता रोकने का प्रयास किया था।

भाजपा नेता के घर जमकर तोड़फोड
झज्जर में भी उपद्रवियों ने शनिवार सुबह कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ व भाजपा नेता आनंद सागर के घर पर तोडफ़ोड़ की और जमकर बवाल मचाया। सेना व सुरक्षा बलों के जवानों ने मार्च किया लेकिन कार्रवाई के इंतजार में रहे। मंत्री की कोठी पर एसी, आरो, पानी की टंकी, खिड़की की शीशे तोड़ दिए गए हैं। इसके बाद पुलिस व आर्मी मौके पर पहुंच गई है।

मंत्री के आवास पर पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। शहर के जहांआरा बाग स्टेडियम के पास आंदोलनकारी व आर्मी आमने सामने डटी हुई है। शहर के छिकारा चौक पर पुलिस अधीक्षक सुमित कुमार बड़ी संख्या में पुलिस व सेना के जवानों के साथ मौजूद हैं। फ्लैग मार्च के दौरान प्रदर्शनकारियों ने एकत्र होते हुए नारेबाजी भी की। आरक्षण की मांग को उठाते हुए उन्होंने कहा कि वे किसी भी स्थिति में पीछे हटने वाले नहीं है।

रेलवे स्टेशन अाग के हवाले
प्रदर्शनकारियों ने शुक्रवार देर रात रेलवे स्टेशन को भी आग के हवाले कर दिया। मुख्य कक्ष के अलावा उन्होंने जनरेटर रुम में भी आग लगा दी। आगजनी की इस घटना में रेलवे स्टेशन पर शनिवार सुबह तक धुंआ उठता हुआ दिखाई दे रहा था। दिन की शुरुआत होने के बाद यहां भी काफी संख्या में लोग मौजूद रहे।

हांसी में स्थिति विस्फोटक हो चली है। हांसी के साथ लगे गांव गिदाबाड़ा में जाटों ने गांव को घेर लिया। उधर गांव में सैनी व गुर्जर समाज भी मोर्चे के लिए तैयार है। दोनों गुटों में टकराव व जमकर फायङ्क्षरग हुई। सेना को स्थिति से निपटने के लिए भेजा गया है लेकिन स्थिति नियंत्रण से बाहर है।

600 अधिक ट्रेने रद

जाट आंदोलन की वजह से रेलवे को अब तक 200 करोड़ का नुकसान हो चुका है और तकरीबन 600 ट्रेनों को रद करना पड़ा है। रेलवे के अनिल सक्सेना ने जानकारी दी है कि जुलाना, डिंगल समेत चार रेलवे स्टेशन को जलाया गया है। पंजाब, हरियाणा, जम्मू और पंजाब का रूट पूरी तरह ठप है। इस रूट पर चलने वाली ट्रेनें रविवार सुबह दस बजे तक के लिए रद कर दी गई है।

कानून व्यवस्था बनाएं रखना पहली प्राथमिकताः सचिव

हरियाणा चल रहे उग्र जाट अांदोलन के कारण कैबिनेट सचिव पीके सिन्हा ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से पूरे राज्य में कानून व्यवस्था की समीक्षा की। सिन्हा ने बताया कि राज्य में लोगों की सुरक्षा, संपत्ति की रक्षा व कानून व्यवस्था बनाए रखने के साथ लोगों के बीच में सद्भाव व संरक्षण पहली प्राथमिकता है। सुरक्षा के लिहाज से राज्य में सेना के 33 बटालियन की तैनाती की गई है। रोहतक में अधिकतम तैनाती की गई है। इसके साथ अतिरिक्त जवानों को रिजर्व में रखा गया है।

जाट अारक्षण अांदोलनः हरियाणा में सेना भी बेअसर Reviewed by on . हिसार  : हरियाणा में हालात बद से बदतर होते जा रहा है। कई जिलों में सेना बुलाई गई है लेकिन उपद्रव जारी है। रोहतक में उपद्रवियों के हंगामे के बीच सेना को पीछे हटन हिसार  : हरियाणा में हालात बद से बदतर होते जा रहा है। कई जिलों में सेना बुलाई गई है लेकिन उपद्रव जारी है। रोहतक में उपद्रवियों के हंगामे के बीच सेना को पीछे हटन Rating: 0

Leave a Comment

scroll to top